Showing posts with label हैंगओवर उतर ही नहीं रहा है।।😂. Show all posts
Showing posts with label हैंगओवर उतर ही नहीं रहा है।।😂. Show all posts

2 Nov 2019

इश्क़ को सजदा।

Shayari

इश्क़ को सजदा।

Kavita dilse.top द्वारा आप सभी पाठकों को समर्पित है।




क्या सही है?
क्या गलत है?
हमें कुछ भी फर्क नहीं पड़ता।
हम तो चले थे कल
इश्क के अम्बर में घर बनाने।
एक छोटा सा प्यार का घोसला बना
अपने जिंदगानी को संवारने।

हमें क्या पता था?
इतने घनघोर अंधेरे
हमारे आस पास फैले हुए हैं।
राक्षस हमारे आशियाने को
तोड़ने को आतुर खड़े हैं।
पर हम नहीं मानते इन भटके हुओं को
अपना कोई दुश्मन।
ये अभागे बेचारे
अछूते रह गए हैं
मोहब्बत के साये से।

आज इनकी नफरत के आग को
हम अपनी मोहब्बत के बरसात से शांत कर देंगे।
हम इन्हें भी अपनी तरह
इश्क़ को सजदा करना सिखा देंगे।


Written by sushil kumar

Shayari

10 Mar 2018

हैंगओवर उतर ही नहीं रहा है।।😂

सास-बहू तुम्हारे गाल लाल कैसे होते जा रहें हैं ?? संजय तुम पर हाथ उठाता है क्या?
बहू-नहीं माँ जी,संजय और हम  रोज शाम में लाल शरबत पीते हैं ना!इसलिए।।
सास-चक्कर खाकर गिर गई।
बहू-अरे माँ जी क्या हुआ,चक्कर कैसे खा गई??
सास-अरे तेरे पापा ने सुबह सुबह हमे पीला शरबत पिला दिया था।हैंगओवर उतर ही नहीं रहा है।😉

तेरे हक का है तो छीन लो।

Shayari तेरे हक का है तो छीन लो। kavitadilse.top द्वारा आप सभी पाठकों को समर्पित है। अपने हक के लिए तुम्हें आवाज खुद उठाना होगा। आए...