18 Dec 2018

Har rishta yahan anmol hai.

Shayari

हर रिश्ता यहाँ अनमोल है।

Kavitadilse.top द्वारा आप सभी पाठकों को समर्पित है।


हर रिश्ता यहाँ अनमोल है।
प्यार और विश्वास का 
आपस में गठजोड़ है।

माँ-बाप,भाई-बहन,
दोस्त इत्यादि।
सभी रिश्तों में
अपना अपना गुरुत्वाकर्षण है।
जो हमें हमेशा अपनी
और खींचे रहते हैं।
और समय समय पर
अपनी उपस्थिति से
हमारे जीवन को सरल
बनाते हैं।









har rishtaa yahaan anmol hai।

pyaar aur vishvaas kaa

aapas men gathjod hai।




maan-baap,bhaai-bahan,

dost etyaadi।

sabhi rishton men

apnaa apnaa gurutvaakarshan hai।

jo hamen hameshaa apni

aur khinche rahte hain।

aur samay samay par

apni upasthiti se

hamaare jivan ko saral

banaate hain।


हर रिश्ता यहाँ अनमोल है।।
written by Sushil Kumar at kavitadilse.top

Shayari

No comments:

अभिमान है मुझे:abhimaan hai mujhe

अभिमान है मुझे। Shayari मेरे भारत देश के मिट्टी की  बात बड़ी ही निराली है। यहाँ जन्म लेने वाले हर शख्स के खून में छिपी हुई एक...