Email subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

प्यार से बड़ा कोई अहसास नहीं होता है।प्यार को अगर आपने अपने जीवन में पा लिया,तो सब कुछ पा लिया।

प्यार से बड़ा कोई अहसास नहीं होता है।प्यार को अगर आपने अपने जीवन  में पा लिया,तो सब कुछ पा लिया।

Kavitadilse.top द्वारा आप सभी पाठकों को समर्पित है।


प्यार से बड़ा कोई अहसास नहीं होता है।।

वो उनका दिखना
और मेरे आँखों का छिप छिप कर
उनका दर्शन करना।
और उनका मेरे नैनों की चोरी पकड़ना।
और फिर मिठी सी हल्की सी मुस्कान के साथ
मेरे नादानियों का जवाब देना।
क्या बताऊँ?
मेरा दिल तो उनका मुस्कान देख
घायल हो गया।

मेरी हिम्मत क्या बढ़ी
उनकी शैतानियां भी परवान चढ़ने लगी।
उन्होंने सभी से छिपकर
मुझे आँख क्या मारी।
मेरा हृदय तो बस
छलनी छलनी हो गया।
और मैं उनके पास में
जाकर बैठ गया।

उसकी आवाज
क्या बताऊँ।
ऐसा लगा बस मैं सुनता रहूँ।
और वो बोलती रहें।
उनका नाम संजना था।
और उनका स्टोपेज भी आ गया।
और मेरे दिल ने तपाक से पूछा
कल कहाँ मिलेंगे हम?
उन्होने कहा नगर पुस्तकालय में
सुबह दस बजे।

बस तो तब से
कुछ भी मेरा ना रहा
जो कुछ भी था
सारा उनके साथ चला गया।
अब तो जो वे नजरों से ओझल क्या हुए
मुझे लगा मेरा रूह भी
मेरे शरीर को छोड़
उनके पास जाने को तड़प उठा।
ये कैसा रिश्ता है?
और ये कब का सम्बंध है हमारा?
जो उनके सामने आते ही 
जागृत हो उठी है।

सारे रिश्तों में आज मानो
मिठास सा आ गया है।
बारिश जो मुझे कभी परेशान किया करती थी।
आज तो वो मानो मुझपे प्यार की बरसात कर रहीं हैं।
ओर मुझे ऐसा आभास हो रहा है कि
उनके प्यार के हर एक बूँद के
अहसास को संजोकर रख लूँ
हमेशा हमेशा के लिए।

कितना मधुर एहसास था।
मानो हर पल संगीत मय हो
और मैं भी पूरे जोश में 
प्यार भरे गीत गुनगुना रहा हूँ।

ये कैसा परिवर्तन था कि
पापा के आने से पहले
मैं खा पीकर सोने चला जाता था।
आज उनके आने के पश्चात
मैं उनके साथ खाना खाया
और सोने जाने से पहले 
उनके और माँ के पैर छू 
और गले लग 
धन्यवाद दे सोने चला गया।
मानो आज मैनै 
अपने इस जीवन में आने का उद्देश्य पा लिया हो।
और जल्द ही अपनी मंजिल को भी पाने वाला हूँ।

प्यार से बड़ा कोई अहसास नहीं होता है।।
प्यार से बड़ा कोई अहसास नहीं होता है।।


kavitadilse, kavita dilse, love poems, inspirational and motivational poems

प्यार से बड़ा कोई अहसास नहीं होता है।।
written by Sushil Kumar at kavitadilse.top


No comments:

मैं हिन्दू नहीं।

मैं हिन्दू नहीं। kavitadilse.top द्वारा आप सभी पाठकों को समर्पित है। मैं हिन्दू नहीं ना मैं मुसलमान हूँ। मैं सिख नहीं ना मैं क...