Email subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

प्रेम कितने तरह के होते हैं ??

प्रेम कितने तरह के होते हैं ??

।।प्रेम के प्रकार।।

1.निः स्वार्थ प्रेम

Kavitadilse.top द्वारा आप सभी पाठकों को समर्पित है। 

ऐसा प्रेम आजकल बहुत कम दिखने को मिलता है।
ज्यादातर लोग यहाँ खुद से ही प्रेम करते हैं।
ऐसी दुनिया में एक ही रिश्ता निः स्वार्थ प्रेम का जीता जागता उदाहरण बचा है।
वो है माँ का एक बच्चे के लिए।


2.स्वार्थ से भरा प्रेम


ऐसा प्रेम आज समाज का कोई भी वर्ग इससे अछूता नहीं रहा है।
हर कोई स्वार्थी है।
हर रिश्ते में स्वार्थ झलकता है।
हमें हमेशा सजग होकर रहना चाहिए।

पर जहाँ तक हो हमें हमेशा निः स्वार्थ प्रेम ही करना चाहिए।
और दुनिया से स्वार्थ की भावना को मिटाने के लिए नश्वरता के ज्ञान को फैलाना बहुत जरूरी है।
ये शरीर आपका नहीं है।
पता नहीं अगले पल में आपके किस्मत में आपके लिए क्या लिखा है।
जब मौत पर हमारा वश नहीं, फिर ये सारे आडंबरों को लेकर हम कहाँ जाएँगे।खाली हाथ आए थे,खाली हाथ ही जाएँगे।


इस विषय पर हमने एक कविता भी लिखा है।जरा गौर फरमाइएगा:-

1.
नि:स्वार्थ प्रेम से बड़ा 
कुछ भी नहीं है इस दुनिया में।
सभी रिश्तों में 
माँ का प्रेम ही है।
जो अछूता रहा है 
स्वार्थ के भावना से।

2.मरने के बाद भी धड़कते रहो।

प्रेम कितने तरह के होते हैं ??
written by Sushil Kumar at kavitadilse.top

No comments:

तुम लिखो कुछ ऐसा

तुम लिखो कुछ ऐसा kavitadilse.top द्वारा आप सभी पाठकों को समर्पित है। तुम लिखो कुछ ऐसा जिससे शांत सरोवर की शिथिल लहरों में एक उफान ...