Email subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

ये इश्क़ नहीं आसान😭

ये इश्क़ नहीं आसान

Kavitadilse.top द्वारा आप सभी पाठकों को समर्पित है।

ये इश्क़ नहीं आसान।।
सब के बस की बात नहीं है
मेरी जान।
Ye ishq nahin asaan,love shayari,love poems,hindi poems

जितना डूबो
जितनी गहराई में जाओ
उतनी ही तकलीफदेह होती चली जाती है
ये इश्क़ का मीठा मीठा दर्द भी
कहाँ किसी से सहा जाता है??

वो निगाहों से ओझल क्या हुए
दिल बेचैन सा हुए जाता है।
और उनकी झलक पाने को
दिल हमारा तड़प उठता है।

हर सांस के साथ
उनके खैरियत की
रब से दुआ माँगते
दिल कहाँ थक पाता है।

वो उनके साथ न होने पर
चाँदनी रात की
ठंडी हवा भी
दिल को ठंडक कहाँ पहुँचा पाती है??

सच ही कहते हैं
ये इश्क़ नहीं आसान।।
ये इश्क़ नहीं आसान।।


written by sushil kumar @ kavitadilse.top

दिल आज बैठा जा रहा है।।😒

दिल आज बैठा जा रहा है।।😒

Kavitadilse.top द्वारा आप सभी पाठकों को समर्पित है।




दिल आज बैठा जा रहा है।
वो पल जो निकट आ रहा है।।
आज फिर से बिछुड़ना होगा।
वो कदम को 
पीछे खींचना होगा।।
ना चाह कर भी उनसे
फिर से जुदा होना होगा।।

ये प्यार भी गजब का रोग है।
जब साथ होते हैं तो
तो एक दूसरे की
पैर खींचने का 
मौका नहीं गंवाते हैं।
और जब दूर होते हैं
तो एक दूसरे के लिए
पल पल तड़पते रहते हैं।









दिल आज बैठा जा रहा है।।😒

written by sushil kumar @ kavitadilse.top

माँ बाप का साथ ।।

माँ बाप का साथ

Kavitadilse.top द्वारा आप सभी पाठकों को समर्पित है।

kavitadilse, kavita dilse, love poems, inspirational and motivational poems,kavita, kavita hindi me, kavita dil se

माँ बाप का साथ
हमेशा जरूरी होता है।
बिन उनके आशीर्वाद के
कोई भी मुकाम
मुकम्मल नहीं होता है।
kavitadilse, kavita dilse, love poems, inspirational and motivational poems,kavita, kavita hindi me, kavita dil se

हर रास्ता आसान हो जाता है
अंधेरे से लड़ना
हमें भली भाँति आ जाता है।
जो माँ बाप का साथ
हमें नसीब हो जाता है।

kavitadilse, kavita dilse, love poems, inspirational and motivational poems,kavita, kavita hindi me, kavita dil se



माँ बाप का साथ ।।
written by sushil kumar @ kavitadilse.top

उम्र का परवान

उम्र का परवान 

Kavitadilse.top द्वारा आप सभी पाठकों को समर्पित है।


Umra ka parwan,hindi shayari,hindi poems,love shayari,love poems

उम्र का परवान
चाहे जितना चढ़ता चला जाए।
कदम आगे बढ़ाने में
लाठी का सहारा लिया जाए।
Umra ka parwan,love shayari,hindi shayari,hindi poems

साँस लेने से ज्यादा
कोई खाँसता रह जाए।
विभिन्न प्रकार के मिष्ठान
मन खाने को ललचाए।
हर कोई उनके साथ रहे
उनसे सभी लोग बतियाये।
Umra ka parwana,hindi shayari,love shayari,love poems,hindi kavita

पर यहाँ किसे पसंद है
कि कोई उनसे बूढ़ा समझ बरताए।
क्योंकि दिल तो अभी भी बच्चा है।
और सदा बचपन में रहना चाहे।
Umra ka parwana,love shayari,love poems,hindi shayari





उम्र का परवान

माना मैं नकारा हूँ।।

माना मैं नकारा हूँ

Kavitadilse.top द्वारा आप सभी पाठकों को समर्पित है।


माना मैं नकारा हूँ
निकम्मा हूँ
आवारा हूँ।
पर मेरी सोच और
मेरे सपनों को
तुम छीन नहीं सकते हो।
मेरी ख्वाहिशें और मेरे दिली तमन्ना को
तुम बदल नहीं सकते हो।



आज भले मैं
सोया हूँ
बीच सड़क🛣 पर।
रहने को
मेरे पास
नहीं है
अभी कोई घर🏘।
पर मेरे सपने को
तुम कैद नहीं कर सकते हो।



अमेरिका 🇺🇸में बैठ
डोनाल्ड ट्रम्प के साथ डिनर🍜 का मजा ले आऊँ मैं।
कभी सलमान के साथ अपना दोस्ताना भी निभा जाऊँ मैं।
तो कभी कैटरीना के साथ डेट पर भी हो आऊँ मैं।
क्योंकि सपने मेरे हैं
और मैं वहाँ का हूँ शहंशाह😎।
कोई शक😳।



 माना मैं नकारा हूँ।।
written by sushil kumar @ kavitadilse.top


जीवन के पथ पर

जीवन के पथ पर

Kavitadilse.top द्वारा आप सभी पाठकों को समर्पित है।


Jiwan ke path par,shayari,hindi shayari,kavita

जीवन के पथ पर
मैं कभी आगे बढ़ा
कभी मुड़ पीछे देखा।
कुछ तो अपने
साथ चल रहे हैं।
पर कुछ करीबी
पीछे छूट गए।।
उनको अपने
साथ ना पाकर।
बड़ा दुख हो रहा है
आज अपने मन में।।
Jiwan ke path par,hindi shayari,shayari,kavita

जब साथ चल रहे थे
वे हमारे
तवज्जो ना दे पाए
उनकी हम।
आज जब साथ
छूट गया है उनका
अहमियत उनकी
समझ आई तब।।
Jiwan ke path par,hindi shayari,shayari,kavita

ऐसा भी क्यों पछतावा करना।
समय रहते ही
क्यों नहीं संभलना।
क्योंकि
हर रिश्ता अनमोल है
इस जग में।
उनकी अहमियत
समझो अपने हृदय में।
Jiwan ke path par,hindi shayari

और इसलिए
सभी रिश्तों का सम्मान करना ही
आप सभी के लिए
हमारा आज का पैगाम है।।
Jiwan ke path par,hindi shayari


जीवन के पथ पर
written by sushil kumar @kavitadilse.top

अफवाओं के बाजार में

अफवाओं के बाजार में

Kavitadilse.top द्वारा आप सभी पाठकों को समर्पित है।

Afwaon ke bazar me,hindi shayari,hindi kavita

अफवाओं के बाजार में
गलतफहमी कभी भी ना पालें।
यहाँ तो आँखो देखा हाल भी
कभी कभी गलत साबित हो जाया करता है।।
Afwaon ke bazar me,hindi shayari,hindi kavita

लोगों को तो 
तिल का ताड़ करने में
बड़ा आनंद आता है।
पर सच्चाई के जड़ तक
पहुंचे बगैर
अगर आप कुछ भी कार्यवाही कर बैठे।
फिर आत्मग्लानि के पहाड़
के दबाव तले
आप जिंदगी पर दबे रह जाते हैं।
Afwaon ke bazar me,hindi shayari,hindi kavita

हमेशा खुद पर
और केवल खुद पर ही 
विश्वास किया करो।
क्योंकि लोग अपने हैं
और अफवाहें पराये।।
Afwaon ke bazar me,hindi shayari,hindi kavita


अफवाओं के बाजार में 
written by Sushil Kumar @ kavitadilse.top
https://www.hindimehelp.com/online-internet-se-paise-kaise-kamaye-hindi/#comment-137387

गुमशुम क्यों बैठे हुए हो तुम🙄 ?

गुमशुम क्यों बैठे हुए हो तुम🙄 ? 

Kavitadilse.top द्वारा आप सभी पाठकों को समर्पित है।


गुमशुम क्यों बैठे हुए हो तुम🙄 ?
क्या खो दिया है तुमने??
जो खुद से
रूठे😒 हुए हो तुम।

माना आज तुम्हारा दिन 🌅नहीं था।
पर कोशिश तुमने पुरजोर किया था।
असफलता से घबराना कैसा?
जब मंजिल के इतने
करीब पहुँच चुके हो।।

जोर लगा,उठाओ कदम
भले पसीने से लतपथ हो जाए
तेरा सारा बदन।
पर साँस की आखिरी कश लेने तक
पीछे नहीं लेना तुम अपना कदम।

हर मंजिल तुम्हारी परीक्षा लेती है।
विश्वास रखो बस अपने कदम पर।
प्रयत्न किए जा
बस तू लगातार।
हिम्मत अपना बनाए रख।
आज नहीं तो कल ही सही
पर मुकम्मल होगी मुकाम तेरी।





गुमशुम क्यों बैठे हुए हो तुम🙄 ?
written by Sushil Kumar at kavitadilse.top

हर रिश्ता यहाँ अनमोल है।।

हर रिश्ता यहाँ अनमोल है।

Kavitadilse.top द्वारा आप सभी पाठकों को समर्पित है।


हर रिश्ता यहाँ अनमोल है।
प्यार और विश्वास का 
आपस में गठजोड़ है।

माँ-बाप,भाई-बहन,
दोस्त इत्यादि।
सभी रिश्तों में
अपना अपना गुरुत्वाकर्षण है।
जो हमें हमेशा अपनी
और खींचे रहते हैं।
और समय समय पर
अपनी उपस्थिति से
हमारे जीवन को सरल
बनाते हैं।


हर रिश्ता यहाँ अनमोल है।।
written by Sushil Kumar at kavitadilse.top

मैं क्या कहता हूँ ?????

मैं क्या कहता हूँ ?????

Kavitadilse.top द्वारा आप सभी पाठकों को समर्पित है।

मैं क्या कहता🗣 हूँ????
आप लोग क्या समझते हैं????
ये हम लोगों के 
आपसी संबंध का गठजोड़ है।


वरना कभी कभी तो
बिना कुछ बोले 😷 भी
बहुत कुछ लोग समझ जाते हैं।


और कहीं कहीं तो
लाख समझाने पर भी
सामने वाला समझते ही रह जाता है।




जिंदगी का हर लम्हा अनमोल है।।

जिंदगी का हर लम्हा अनमोल है।।

Kavitadilse.top द्वारा आप सभी पाठकों को समर्पित है।

Zindagi ka har lamha anmol hai,hindi shayari,hindi kavita

जिंदगी का हर लम्हा अनमोल है।
कुछ मीठे और कुछ कड़वे पलों का गठजोड़ है।।
खुशियों के जश्न मनाने को
हर दिल यहाँ तड़पता है।
पर दुख के परछाई से भी
हर कोई यहाँ डरता है।
Zindagi ka har lamha anmol hai,hindi shayari,hindi kavita

पता नहीं किस बात का डर
इंसान को यहाँ सताता है।
अगर दुख का कभी जो
आभास ना हुआ हो।
तो खुशी का एहसास कोई
भला पा सकता है क्या????
Zindagi ka har lamha anmol hai,hindi shayari,hindi kavita




जिंदगी का हर लम्हा अनमोल है।।
written by Sushil Kumar at kavitadilse.top

मैं टूटा तारा ⭐ ना जाने।।

मैं टूटा तारा ⭐ ना जाने

Kavitadilse.top द्वारा आप सभी पाठकों को समर्पित है।


मैं टूटा तारा ⭐ ना जाने
ब्रह्मांड में कब से भटक🚶 रहा।
ना कोई मंजिल थी🤔
ना किसी की तलाश थी।
फिर भी ब्रह्मांड में चक्कर लगा रहा।


एक आस बस दिल में लिए हुए
कोई पड़ाव तो मिलेगा
मुझे
आज नहीं तो कल।
मैं निराश नहीं
ना ही हताश हूँ मैं।।😒
अपनी तकदीर को लेकर
कभी उदास नहींं हुआ
मैं।।


आज भी थमा नहीं
बेड़ियों से खुद को बाँधा नहीं।
निरंतर चलता आ रहा हूँ
निरंतर चलता चला जाऊँगा।।
जब तक कोई मंजिल मुझे
अपना ना ले मुझे स्वयं में।



मैं टूटा तारा ⭐ ना जाने।।
written by Sushil Kumar at kavitadilse.top

मैं चला था कभी अकेला।

मैं चला था कभी अकेला।

Kavitadilse.top द्वारा आप सभी पाठकों को समर्पित है।



मैं चला🚶 था कभी अकेला।
लड़खड़ाया😧
कभी संभला😳
तो कभी गिरा धड़ाम से😵।



कुछ लोगों को बड़ा मजा आया😄।
किसी ने मुंह पर हाथ रख
अपनी हँसी छिपानी चाही🤗।
तो किसी ने ठहाके मार कर हँसा😂।



पर कुछ लोग वैसे भी थे👮
जो आगे बढ़कर
हमें उठाने को आए।
और हमें उठा
हिम्मत बाँध💪
अपने अपने रस्ते पर बढ़ गए।



जीवन आपका है।
पथ भी आपका है।
इसमें मिलने वाले
खुशी😀 और गम😪 भी आपके ही हैं।
इसे सहज स्वीकार कर
अपने पथ को पूरी करो।



आपको अकेले ही
अपनी पूरी जिंदगानी लिखनी है ।
लिखो!🖋
लिखते जाओ🖋
लिखते जाओ🖋
जब तक जीवन की स्याही
खत्म नहीं हो जाती है।
kavitadilse, kavita dilse, love poems, inspirational and motivational poems




मैं चला था कभी अकेला।
By Sushil Kumar
      (kavitadilse.top)

प्यार से बड़ा कोई अहसास नहीं होता है।प्यार को अगर आपने अपने जीवन में पा लिया,तो सब कुछ पा लिया।

प्यार से बड़ा कोई अहसास नहीं होता है।प्यार को अगर आपने अपने जीवन  में पा लिया,तो सब कुछ पा लिया।

Kavitadilse.top द्वारा आप सभी पाठकों को समर्पित है।


प्यार से बड़ा कोई अहसास नहीं होता है।।

वो उनका दिखना
और मेरे आँखों का छिप छिप कर
उनका दर्शन करना।
और उनका मेरे नैनों की चोरी पकड़ना।
और फिर मिठी सी हल्की सी मुस्कान के साथ
मेरे नादानियों का जवाब देना।
क्या बताऊँ?
मेरा दिल तो उनका मुस्कान देख
घायल हो गया।

मेरी हिम्मत क्या बढ़ी
उनकी शैतानियां भी परवान चढ़ने लगी।
उन्होंने सभी से छिपकर
मुझे आँख क्या मारी।
मेरा हृदय तो बस
छलनी छलनी हो गया।
और मैं उनके पास में
जाकर बैठ गया।

उसकी आवाज
क्या बताऊँ।
ऐसा लगा बस मैं सुनता रहूँ।
और वो बोलती रहें।
उनका नाम संजना था।
और उनका स्टोपेज भी आ गया।
और मेरे दिल ने तपाक से पूछा
कल कहाँ मिलेंगे हम?
उन्होने कहा नगर पुस्तकालय में
सुबह दस बजे।

बस तो तब से
कुछ भी मेरा ना रहा
जो कुछ भी था
सारा उनके साथ चला गया।
अब तो जो वे नजरों से ओझल क्या हुए
मुझे लगा मेरा रूह भी
मेरे शरीर को छोड़
उनके पास जाने को तड़प उठा।
ये कैसा रिश्ता है?
और ये कब का सम्बंध है हमारा?
जो उनके सामने आते ही 
जागृत हो उठी है।

सारे रिश्तों में आज मानो
मिठास सा आ गया है।
बारिश जो मुझे कभी परेशान किया करती थी।
आज तो वो मानो मुझपे प्यार की बरसात कर रहीं हैं।
ओर मुझे ऐसा आभास हो रहा है कि
उनके प्यार के हर एक बूँद के
अहसास को संजोकर रख लूँ
हमेशा हमेशा के लिए।

कितना मधुर एहसास था।
मानो हर पल संगीत मय हो
और मैं भी पूरे जोश में 
प्यार भरे गीत गुनगुना रहा हूँ।

ये कैसा परिवर्तन था कि
पापा के आने से पहले
मैं खा पीकर सोने चला जाता था।
आज उनके आने के पश्चात
मैं उनके साथ खाना खाया
और सोने जाने से पहले 
उनके और माँ के पैर छू 
और गले लग 
धन्यवाद दे सोने चला गया।
मानो आज मैनै 
अपने इस जीवन में आने का उद्देश्य पा लिया हो।
और जल्द ही अपनी मंजिल को भी पाने वाला हूँ।

प्यार से बड़ा कोई अहसास नहीं होता है।।
प्यार से बड़ा कोई अहसास नहीं होता है।।


kavitadilse, kavita dilse, love poems, inspirational and motivational poems

प्यार से बड़ा कोई अहसास नहीं होता है।।
written by Sushil Kumar at kavitadilse.top


राष्ट्रवाद

राष्ट्रवाद kavitadilse.top द्वारा आप सभी पाठकों को समर्पित है। कोई ऐसा तूफान नहीं जो मेरे इरादे को हिला सके। कोई ऐसा सैलाब नहीं जो मे...