10 Dec 2019

Koshish karne walon ki kabhi haar nahin hoti hai

Shayari


कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।।

थक कर बैठ जाने वालों को कभी जीत नहीं होती।।
हवा के साथ तो मीर कासिम जैसे कायर चलते हैं।।
मजा तो तब है जब आप वीर भगत सिंह बन आँधी के विरुद्ध चलते हैं।।



koshish karne vaalon ki kabhi haar nahin hoti।।

thak kar baith jaane vaalon ko kabhi jit nahin hoti।।

havaa ke saath to mir kaasim jaise kaayar chalte hain।।

majaa to tab hai jab aap vir bhagat sinh ban aandhi ke viruddh chalte hain।।


Written by sushil kumar

No comments:

कोई जीते जी निर्वाणा कैसे पा सकता है???Koi jite ji nirvana kaise paa sakta hai??

मैं चलता हूँ बैठता हूँ बोलता हूँ सुनता हूँ सोता हूँ जागता हूँ पर माँ तुझे कभी नहीं भूलता हूँ। कुछ यादें आती जाती रहती हैं। कुछ ब...