Email subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

रग रग हमारा करे पुकार।।

रग रग हमारा करे पुकार।
भारत माता की हो जय जयकार।।
रक्त के कतरा कतरा का यही दरकार।
हर बून्द से तेरी वजूद का रखेंगे ख्याल।।
जब कभी तेरी स्वाभिमान पर उठेंगें सवाल।
तेरी गरिमा के लिए
हम दे देंगे अपनी जान।।
देश भक्ति की भावना से
सींचेंगे हम अपना जहाँ।
सभी राष्ट्रों में अब्बल होगा
हमारा प्यार हिंदुस्तान।।

वन्दे मातरम
जय किसान
जय विज्ञान
जय जवान

No comments:

वतना मेरे वतना वे।

वतना मेरे वतना वे kavitadilse.top द्वारा आप सभी पाठकों को समर्पित है। वतना मेरे वतना वे तेरा इश्क़ मेरे सर चढ़ चढ़कर बोल रहा है। एक जन्...